UGC-NET June 2012 Exam Paper 1 (Answer Key)

UGC-NET June 2012 Paper 1 (Answer Key)

41. एक नागरिक के मूल कर्त्तव्यों में सम्मिलित हैं :
1. संविधान, राष्ट्रीय ध्वज व राष्ट्रगान का सम्मान
2. वैज्ञानिक मन:स्थिति का विकास
3. सरकार के प्रति सम्मान
4. वन्य जीवों की रक्षा
निम्नलिखित कूट में से सही उत्तर चुनिये :
कूट :
(A) 1, 2 व 3
(B) 1, 2 व 4
(C) 2, 3 व 4
(D) 1, 3, 4 व 2

Show Answer/Hide

Answer – (B)

42. भारत का राष्ट्रपति शपथ लेता है
(A) भारत की प्रभुसत्ता और अखण्डता को बनाए रखने की ।
(B) भारत के संविधान में सत्यनिष्ठा और विश्वास की ।
(C) देश के संविधान और कानून को बनाए रखने की ।
(D) देश के संविधान और कानून को संरक्षित, सुरक्षित एवं प्रतिरक्षित करने की ।

Show Answer/Hide

Answer – (D)

43. यदि आपको सामान्य विद्यार्थियों के साथ-साथ दृष्टिहीन विद्यार्थी को पढ़ाने का अवसर मिले, तो आप कक्षा में किस प्रकार उसके साथ व्यवहार करना चाहेंगे ?
(A) अतिरिक्त ध्यान नहीं देना क्योंकि अधिकांश को हानि उठानी पड़ सकती है ।
(B) कक्षा में सहानुभूति से उसकी देख रेख करना ।
(C) आप सोचेंगे कि अन्धापन उसका भाग्य है और इसलिये आप कुछ नहीं कर सकते है।
(D) आगे की पंक्ति में सीट की व्यवस्था करना और उसके लिये सुविधाजनक गति से पढ़ाने की कोशिश करना ।

Show Answer/Hide

Answer – (D)

44. निम्नलिखित में से क्या उत्तम उपलब्धि परीक्षण की विशेषता नहीं है ?
(A) विश्वसनीयता
(B) वस्तुनिष्ठता
(C) अस्पष्टता
(D) वैधता

Show Answer/Hide

Answer – (C)

45. निम्नलिखित में से क्या प्रक्षेपित साधन में नहीं आता है ?
(A) ओवरहैड प्रोजेक्टर
(B) ब्लैकबोर्ड
(C) छाया क्षेपित्र (एपिडाइस्कोप)
(D) स्लाइड प्रोजेक्टर

Show Answer/Hide

Answer – (B)

46. एक अध्यापक के लिए, ब्लैक बोर्ड पर लिखने के लिए निम्नलिखित में से कौन सी पद्धति सही है ?
(A) तेजी से तथा जहाँ तक सम्भव हो स्पष्ट लिखना
(B) सर्वप्रथम विषयवस्तु को लिख देना तथा फिर विद्यार्थियों को उसे पढ़ने के लिये कहना
(C) सर्वप्रथम विद्यार्थियों से प्रश्न पूछना और फिर उत्तर को बिल्कुल वैसे ही लिखना
(D) मुख्य बातों को जहाँ तक सम्भव हो स्पष्टता से लिखना

Show Answer/Hide

Answer – (D)

47. एक अध्यापक सफल हो सकता है यदि वह
(A) विद्यार्थियों को बेहतर नागरिक बनने में मदद करता है।
(B) विद्यार्थियों को विषय का ज्ञान देता है।
(C) विद्यार्थियों को परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिये तैयार करता है।
(D) विषयवस्तु को सुव्यवस्थित ढंग से पेश करता है।

Show Answer/Hide

Answer – (A)

48. अध्यापन के प्रति गत्यात्मक उपागम का तात्पर्य है
(A) अध्यापन सशक्त तथा प्रभावशाली होना चाहिये ।
(B) अध्यापकों को ऊर्जावान तथा गतिशील होना चाहिये ।
(C) अध्यापन के प्रकरण स्थैतिक नहीं गतिशील होने चाहिये ।
(D) विद्यार्थियों से गतिविधियों के माध्यम सीखने की अपेक्षा करनी चाहिये ।

Show Answer/Hide

Answer – (D)

49. जो शोध तात्कालिक अनुप्रयुक्ति का लक्ष्य करता है वह कहलाता है :
(A) क्रियात्मक शोध
(B) आनुभविक शोध
(C) प्रत्ययात्मक शोध
(D) मौलिक शोध

Show Answer/Hide

Answer – (A)

50. जब दो या ज्यादा उत्तरोत्तर फ़टनोट (पादटिप्पणियाँ) एक ही कृति का संकेत देते हैं तो निम्नलिखित में से एक अभिव्यक्ति का उपयोग किया जाता है :
(A) ibid
(B) et.al
(C) op.cit :
(D) loc.cit.

Show Answer/Hide

Answer – (A)

51. नौ वर्षीय बच्चे सात वर्षीय बच्चों से ज्यादा लम्बे होते हैं । यह निम्नलिखित से लिये संदर्भ का उदाहरण है :
(A) ऊर्ध्वाकार अध्ययन
(B) प्रतिनिध्यात्मक (क्रॉस-सेक्शनल) अध्ययन
(C) समय श्रेणी अध्ययन
(D) प्रयोगात्मक अध्ययन

Show Answer/Hide

Answer – (B)

52. सम्मेलन किसके लिये होते हैं ?
(A) बहु लक्ष्यांक समूह
(B) समूह चर्चाएँ
(C) नवीन शोध प्रदर्शित करना
(D) उपर्युक्त सभी

Show Answer/Hide

Answer – (D)

53. कार्योत्तर शोध का अर्थ है
(A) घटना के बाद शोध किया जाता है ।
(B) घटना के पूर्व शोध किया जाता है ।
(C) घटना के घटने के साथ-साथ शोध किया जाता है।
(D) घटना की सम्भावनाओं को ध्यान में रखते हुए शोध किया जाता है ।

Show Answer/Hide

Answer – (A)

54. शोध नैतिकता किसे शामिल नहीं करती है ?
(A) ईमानदारी
(B) व्यक्तिपरकता
(C) न्यायनिष्ठा
(D) वस्तुनिष्ठता

Show Answer/Hide

Answer – (B)

निम्नलिखित परिच्छेद को ध्यान पूर्वक पढ़कर प्रश्न क्र. 55 से 60 तक के उत्तर दीजिए :

जेम्स मैडिसन ने कहा “जो लोग स्वयं को अपना नियंत्रक समझते हैं उन्हें ज्ञान से प्राप्त शक्ति से अपने को सुसज्जित कर लेना चाहिए ।” भारत में शासकीय गोपनीयता अधिनियम, 1923 जन साधारण को सूचना की सार्वजनिक मनाही का सुविधाजनक धूम्रावरण था । पारम्परिक रूप से, सार्वजनिक कार्यकरण को गोपनीय रखा जाता रहा । परन्तु, लोकतंत्र में, जहाँ लोग ही अपने को शासित करते हैं, ज्यादा खुलापन रखना आवश्यक है । सूचना का अधिकार हमारे लोकतंत्र को परिपक्व होने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने का एक प्रमुख सोपान है । यह निर्णय लेने की उस प्रक्रिया, जो उनके जीवन को गम्भीर रूप से प्रभावित करती है, में पूर्णतया भागीदारी प्रदान करता है । लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण इसी सन्दर्भ में महत्त्वपूर्ण है । उन्होंने कहा, “मैं सिर्फ यह देखना चाहँगा कि प्रत्येक व्यक्ति, विशेष रूप से हमारे लोक सेवक, विधेयक को सकारात्मक भावना से देखें न कि सरकार को अशक्त (गतिहीन) करने वाले क्रूर कानून के रूप में । बल्कि, वे विधेयक को सरकार-नागरिक अन्तराफलक सम्बन्धों को सुधारने के ऐसे उपकरण के रूप में देखें जो लोगों को एक मित्रवत, देखभाल करने वाली तथा लोगों की भलाई करने वाली सरकार के रूप में परिणत हो ।” उन्होंने आगे और कहा, “यह नवाचारी विधेयक है जिसमें उसके कार्यकरण के अनुभव के बाद पुनरावलोकन की गुंजाइश रहेगी । अत:, यह विधि व्यवस्था का ऐसा अंश है, जिसकी कार्यशीलता को सतत पुनरावलोकन के अन्तर्गत रखा जायेगा ।” आयोग ने, अपनी रिपोर्ट में, कार्यपालिका विभाग, विधानमण्डल और न्यायपालिका में सूचना अधिकार की अनुप्रयुक्ति के सम्बन्ध में चर्चा की है । अधिनियम को उसकी मूल भावना के अनुरूप अक्षरश: क्रियान्वित करने में न्यायपालिका अग्रणी हो सकती है क्योंकि अधिकांश कार्य, जो न्यायपालिका करती है, सार्वजनिक छानबीन के लिए खुला रहता है । भारत सरकार ने न्यायपालिका के लिए ₹ 700 करोड़ की ई-शासन योजना को मंजूरी दी है जिससे इसके अभिलेखों का व्यवस्थित वर्गीकरण, मानकीकरण एवं श्रेणीकरण हो सकेगा । यह न्यायपालिका को अधिनियम के अन्तर्गत उसके अधिदेश को पूरा करने में सहायता करेगा । इसी तरह का क्षमता निर्माण अन्य सभी लोक प्राधिकरणों में अपेक्षित होगा । अपारदशिता से पारदशिता एवं सार्वजनिक जवाबदेयता में रूपान्तरण राज्य के सभी तीनों अंगों का उत्तरदायित्व है ।

55. एक व्यक्ति शक्ति प्राप्त करता है
(A) ज्ञान अर्जित करके
(B) शासकीय गोपनीयता अधिनियम, 1923 से
(C) ज्यादा खुलापन लाने से
(D) लोक सूचना मना करने से

Show Answer/Hide

Answer – (A)

56. सूचना का अधिकार क्या करने का मुख्य अग्र सोपान है ?
(A) नागरिकों को निर्णय लेने की प्रक्रिया में पूर्णतया भागीदारी करने योग्य बनाने में
(B) लोगों को अधिनियम के प्रति जागरूक बनाने के लिए
(C) प्रशासन का ज्ञान प्राप्त करने के लिए
(D) लोगों को सरकार के प्रति मित्रवत बनाने के लिए

Show Answer/Hide

Answer – (A)

57. प्रधानमंत्री ने विधेयक को क्या समझा ?
(A) लोक सेवकों को शक्ति प्रदान करेगा ।
(B) सरकार-नागरिकों के अन्तराफलक सम्बन्धों को सुधारने का उपकरण जो कि मित्रवत, देखभाल करने वाली तथा प्रभावपूर्ण सरकार लायेगा ।
(C) शासकीय कर्मचारियों के विरुद्ध क्रूर कानून के रूप में ।
(D) लोगो को परेशान करने से रोकना ।

Show Answer/Hide

Answer – (B)

58. आयोग ने विधेयक को कैसे प्रभावशील बनाया ?
(A) कार्यकारी प्राधिकारियों को शक्ति हस्तांतरित करके
(B) कार्यकारी तथा विधायी शक्ति को मिश्रित करके
(C) न्यायपालिका को अधिनियम की मूल भावना के अनुरूप अक्षरश: क्रियान्वित करने में अग्रणी मानकर
(D) अधिनियम के क्रियान्वयन से पूर्व लोगों को शिक्षित करके

Show Answer/Hide

Answer – (C)

59. प्रधानमंत्री ने अधिनियम को नवोन्मेषकारी समझा और आशा की कि
(A) उसकी कार्यकारिता के अनुभव के आधार पर उसका पुनरावलोकन किया जा सकेगा ।
(B) लोक सेवक विधेयक को सकारात्मक भावना से देखेंगे ।
(C) इसे सरकार को अशक्त (गतिहीन) करने का क्रूर कानून न समझा जाये ।
(D) उपर्युक्त सभी ।

Show Answer/Hide

Answer – (D)

60. पारदर्शिता और जवाबदेयता राज्य के तीन अंगों का उत्तरदायित्व है । राज्य के ये तीन अंग हैं
(A) लोकसभा, राज्यसभा और न्यायपालिका
(B) लोकसभा, राज्यसभा और कार्यपालिका
(C) न्यायपालिका, व्यवस्थापिका और आयोग
(D) व्यवस्थापिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका

Show Answer/Hide

Answer – (D)

Read Also :

Read Related Posts

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

State

Bihar
Madhya Pradesh
Rajasthan
Uttarakhand
Uttar Pradesh

E-Book

Subjects

Category
error: Content is protected !!