UTET Exam 2022 (Answer Key)

UTET Exam 30 Sep 2022 Paper – II (Language II – Hindi) (Official Answer Key)

76. भाषा की लिखित आकृति कहलाती है
(A) वर्तनी
(B) ध्वनि
(C) भाव
(D) लिपि

Show Answer/Hide

Answer – (D)

77. ‘आषाढ़ का एक दिन’ नाटक के लेखक हैं
(A) जयशंकर प्रसाद
(B) मोहन राकेश
(C) उदय शंकर
(D) रामकुमार वर्मा

Show Answer/Hide

Answer – (B)

78. इनमें से कौन से रचनाकार सबसे बाद के काल के है –
(A) मलिक मोहम्मद जायसी
(B) मतिराम
(C) भारतेन्दु हरिश्चन्द्र
(D) चंद बरदाई

Show Answer/Hide

Answer – (C)

79. किस महाकाव्य में सर्गों के नाम इड़ा, श्रद्धा, लज्जा आदि हैं
(A) कामायनी
(B) चिदम्बरा
(C) साकेत
(D) प्रिय प्रवास

Show Answer/Hide

Answer – (A)

80. निम्न छंद के प्रथम और तृतीय पद में मात्राओं की संख्या है
‘सोहत ओढ़े पीत पटु, श्याम सलोने गात।
मनो नीलमणि शैल पर, आतप पड़यो प्रभात।।
(A) 12-12
(B) 11-11
(C) 13-13
(D) 16-16

Show Answer/Hide

Answer – (C)

81. श्रवण बाधित बच्चों के लिए कौन सा उपचारात्मक उपाय सही नहीं है
(A) ऐसे बच्चों को शिक्षक के पास-पास बैठना चाहिए।
(B) बोलते या पढ़ते समय इन बच्चों को अध्यापक के होंठ उच्चारण करते हुए दिखने चाहिए।
(C) शिक्षक को चाहिए कि वह लंबे-लंबे वाक्यों का पाठ करते जाए।
(D) शिक्षक को छोटे-छोटे वाक्यों को स्पष्ट और धीरे-धीरे बोलना चाहिए।

Show Answer/Hide

Answer – (C)

82. वक्ता के कथन को सुनकर लिखने को कहते हैं
(A) श्रुतलेख
(B) अभिलेख
(C) अनुलेख
(D) सुलेख

Show Answer/Hide

Answer – (A)

83. व्याकरण शिक्षण में उदाहरणों की सहायता से व्याकरण के नियमों, परिभाषाओं, व्यवस्थाओं को समझाया जाता है। यह विधि कहलाएगी –
(A) निगमन विधि
(B) आगमन विधि
(C) व्यास विधि
(D) अभिनय विधि

Show Answer/Hide

Answer – (B)

84. कौन सी विधा हिंदी साहित्य में स्मारक साहित्य के अंतर्गत नहीं आती है
(A) संस्मरण
(B) रेखाचित्र
(C) आत्मकथा
(D) निबंध

Show Answer/Hide

Answer – (D)

85. ‘रजनीश’ शब्द में संधि होगी
(A) गुण संधि
(B) यण संधि
(C) दीर्घ संधि
(D) वद्धि संधि

Show Answer/Hide

Answer – (C)

86. किस वाक्य में संबंध कारक है
(A) राहुल ने मेज पर घड़ी रखी है।
(B) यह सामान मेरा है।
(C) साहब ने कर्मचारियों को निर्देश दिए।
(D) बच्चों के लिए कुछ ले लो।

Show Answer/Hide

Answer – (B)

निर्देशः निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों (प्रश्न संख्या 87 से 90 तक) के सर्वाधिक उचित उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिए।

भारत में समय-समय पर ईरानी, यूनानी, शक, कुषाण, हूण, अरब, तुर्क, मंगोल आदि जातियां आई लेकिन भारतीय संस्कृति ने अपने विकास की प्रक्रिया में इन सभी को आत्मसात कर लिया और उनके अच्छे गुणों को ग्रहण करके उन्हें अपने रंग-रूप में ऐसा ढाला कि वे आज भारतीय संस्कृति के अभिन्न अंग हैं। भारत ने वे सभी विचार, आचार व्यवहार स्वीकार कर लिये जो उसकी दृष्टि में समाजोपयोगी थे। अच्छे विचारों को ग्रहण करने में भारतीय संस्कृति ने कभी परहेज नहीं किया। विविध संस्कृतियों को पचाकर उन्हें एक सामासिक रूप देना ही भारतीय संस्कृति का कालजयी होने का कारण है। ‘अनेकता में एकता’ ही भारतीय संस्कृति की विशिष्टता रही है। कवि गुरू रवीन्द्रनाथ ठाकुर ने भारत को ‘महामानवता का सागर’ कहा है।

87. भारतीय संस्कृति में घुल-मिलकर कौन हमारी संस्कृति के अभिन्न अंग हैं
(A) शक
(B) हूण
(C) मंगोल
(D) उपर्युक्त सभी

Show Answer/Hide

Answer – (D)

88. भारत ने किन विचारों, व्यवहारों को स्वीकार कर लिया
(A) जो भिन्नता पैदा करते थे।
(B) जो व्यक्ति निष्ठ थे।
(C) जो समावेशी थे
(D) जो केवल एक धर्म को ही मानते थे।

Show Answer/Hide

Answer – (C)

89. भारतीय संस्कृति को इसलिए ‘कालजयी’ कहा है
(A) क्योंकि उसने विविध संस्कृतियों का एक समन्वित स्वरूप बनाया।
(B) क्योंकि उसने अपनी संस्कृति में किसी को समाहित नहीं होने दिया
(C) क्योंकि भारतीय संस्कृति एक नवीन संस्कृति
(D) क्योंकि भारतीय संस्कृति एक निर्धारित कालखंड तक सीमित है।

Show Answer/Hide

Answer – (A)

90. ‘महामानवता के सागर’ के लिए दूसरा उपयुक्त शब्द समूह हो सकता है
(A) मानवता का महासफर
(B) मानवता का महा सिंधु
(C) मानवता का महाक्षितिज
(D) मानवता का महाभारत

Show Answer/Hide

Answer – (B)

 

Read Also :

Read Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

State

Bihar
Madhya Pradesh
Rajasthan
Uttarakhand
Uttar Pradesh

E-Book

Subjects

Category
error: Content is protected !!