CTET July 2019 Answer Key

CTET July 2019 – Paper – II Language – I (Hindi) Official Answer Key

106. भाषा अर्जित करने के संदर्भ में ________ सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण है –
(1) संचार माध्यमों का अधिक प्रयोग
(2) विद्यालयी परीक्षा-प्रक्रिया
(3) भाषिक पठन-सामग्री
(4) समृद्ध भाषा-परिवेश

Show Answer/Hide

Answer – (4)

107. बहुभाषिक कक्षा में बच्चों की भाषाओं को स्थान देने के लिए आवश्यक है कि
(1) शिक्षक बच्चों के मातृभाषा-प्रयोग को स्वीकार करे ।
(2) शिक्षक बच्चों की मातृभाषाओं में गीत कविता सुने ।
(3) शिक्षक बच्चों की भाषाओं का ही प्रयोग करे ।
(4) शिक्षक बच्चों को उनकी भाषाओं में ही व्यवहार करने के लिए कहे।

Show Answer/Hide

Answer – (1)

108. आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली रूबीना लिखने में बेहद कठिनाई का अनुभव करती है । संभव है कि वह ______ से ग्रसित हो ।
(1) डिस्ग्राफ़िया
(2) भाषाघात
(3) डिस्केलकुलिया
(4) डिस्लेक्सिया

Show Answer/Hide

Answer – (1)

109. हिंदी भाषा के विविध रूपों से परिचित कराने में सर्वाधिक सहायक है।
(1) हिंदी भाषा की पुस्तक व विज्ञापन
(2) हिंदी भाषा की पत्रिका, व पाठ्य पुस्तक
(3) हिंदी भाषा के समाचार-पत्र व विज्ञापन
(4) हिंदा भाषा का साहित्य व अन्य मुद्रित सामग्री

Show Answer/Hide

Answer – (4)

110. भाषा सीखने और भाषा अर्जित करने में मुख्य अंतर का आधार नहीं है –
(1) सहजता
(2) व्याकरण
(3) भाषाई परिवेश
(4) स्वाभाविकता

Show Answer/Hide

Answer – (2)

111. ‘स्त्री को सौंदर्य का प्रतिमान बना दिया जाना ही उसका बंधन बन जाता है ।’ – इस विषय पर कक्षा में चर्चा कीजिए । भाषा की पाठ्य-पुस्तक में इस प्रश्न को स्थान देने का क्या औचित्य है ?
(1) सौंदर्य प्रसाधनों का विरोध करना
(2) भाषा को स्त्री विमर्श से जोड़ना
(3) सौंदर्य-प्रतिमान बनाना ।
(4) स्त्री-बंधन की चर्चा करना ।

Show Answer/Hide

Answer – (2)

112. ‘पाठ में ठिठियाकर हँसने लगी’ जैसा वाक्य आया है । ठिठियाना शब्द में ‘आना’ प्रत्यय का प्रयोग हुआ है । ‘आना’ प्रत्यय से बनने वाले चार सार्थक शब्द लिखिए । – इस प्रश्न का स्वरूप ______ को पोषित करता है।
(1) संदर्भ में व्याकरण
(2) पाठ्य-पुस्तकीय व्याकरण
(3) प्रत्यय का समस्त ज्ञान
(4) सूत्र शैलीय व्याकरण

Show Answer/Hide

Answer – (1)

113. उच्च प्राथमिक स्तर पर _______ परिचित कराने की प्रक्रिया पर बल दिया जाता है।
(1) अलंकार व छंद से
(2) साहित्यिक विधाओं से
(3) पठन प्रक्रिया से
(4) लेखन प्रक्रिया से

Show Answer/Hide

Answer – (2)

114. उच्च प्राथमिक स्तर पर व्याकरण सिखाने की किस विधि को आप सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण एवं उपयोगी पाते हैं ?
(1) पाठ्य-पुस्तकीय विधि
(2) अनुवाद विधि
(3) आगमन विधि
(4) निगमन विधि

Show Answer/Hide

Answer – (3)

115. उच्च प्राथमिक स्तर पर भाषा शिक्षण का उद्देश्य नहीं है।
(1) भाषा की बारीकी और सौंदर्य बोध को समझने की क्षमता का विकास
(2) विभिन्न साहित्यिक विधाओं की समझ का विकास
(3) निजी अनुभवों के आधार पर भाषा का सृजनशील प्रयोग
(4) भाषा के व्याकरणिक बिंदुओं की परिभाषाओं को जानना

Show Answer/Hide

Answer – (4)

116. ‘भाषा की नियमबद्ध प्रकृति को पहचानना और उसका विश्लेषण करना ।’ – उच्च प्राथमिक स्तर पर भाषा शिक्षण का _______
(1) एकमात्र उद्देश्य है ।
(2) मुख्य उद्देश्य है।
(3) उद्देश्य है।
(4) उद्देश्य नहीं है।

Show Answer/Hide

Answer – (3)

117. उच्च प्राथमिक स्तर पर बच्चों के भाषा-विकास के लिए जरूरी है कि ______ समृद्धि का भाषा, ______ व अन्य विषयगत शिक्षण युक्ति में। उपयोग किया जाए ।
(1) भाषिक, साहित्य
(2) परिवेश, भाषिक
(3) साहित्य, कला
(4) कलात्मक, साहित्य

Show Answer/Hide

Answer – (1)

118. ‘उच्च प्राथमिक स्तर की हिंदी भाषा की पाठ्य पुस्तकों में हिंदीतर भाषा को भी जगह मिलनी चाहिए ।’ – इस कथन का औचित्य नहीं है।
(1) हिंदीतर भाषाओं की रचना – शैलियों से परिचित कराना ।
(2) हिंदीतर भाषाओं के माध्यम से संवेदनाओं को विस्तार देना ।
(3) हिंदीतर भाषियों के आक्रोश को शांत करना ।
(4) हिंदीतर भाषा के साहित्य से परिचित कराना ।

Show Answer/Hide

Answer – (3)

119. विद्यार्थियों की पढ़ने में रुचि जगाने एवं भाषा ज्ञान में वृद्धि के लिए पाठ्य-पुस्तक के अतिरिक्त ________।
(1) समाचार-पत्र, पोस्टर का निर्माण करवाया जाना चाहिए ।
(2) पठन सामग्री विकसित की जा सकती है।
(3) शैक्षिक भ्रमण का अधिकाधिक आयोजन किया जाना चाहिए ।
(4) प्राठ्यचर्या सहगामी क्रियाओं का अधिकाधिक आयोजन किया जाना चाहिए ।

Show Answer/Hide

Answer – (2)

120. उच्च प्राथमिक स्तर पर बच्चों के भाषायी आकलन की दृष्टि से सबसे महत्त्वपूर्ण प्रश्न है।
(1) लेखिका को नीलकंठ की कौन-कौन-सी चेष्टाएँ बहुत भाती थीं ?
(2) नीलकंठ की नृत्य-भंगिका को अपने शब्द-चित्र में प्रस्तुत कीजिए।
(3) मोर-मोरनी के नाम किस आधार पर रखे गए है ?
(4) वसंत ऋतु में नीलकंठ के लिए जालीघर में बंद रहना असहनीय क्यों हो जाता था ?

Show Answer/Hide

Answer – (2)

Read This Section : –

Read Also :

Read Related Posts

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

State

Bihar
Madhya Pradesh
Rajasthan
Uttarakhand
Uttar Pradesh

E-Book

Subjects

Category
error: Content is protected !!