CTET Exam Sep 2016 Paper – I Language II (Hindi)

CBSE conducted the CTET (Central Teacher Eligibility Test) Exam Paper held on 18th Sep 2016 Morning and Evening Shift. Here The CTET Solved Question Paper I (Class I to V) Solved Paper. 

CTET (Central Teachers Eligibility Test) Paper First Session : Primary Level (Class 1 to Class 5).

परीक्षा (Exam) – CTET Paper I (Class I to V) 
भाग (Part) – V भाषा  – II हिंदी (Language – II Hindi )
परीक्षा आयोजक (Organized) : CBSE 
कुल प्रश्न (Number of Question) : 30
परीक्षा तिथि (Exam Date) – 18th Sept 2016

Read Also….

CTET Exam Sep 2016 Paper -1 (Junior Level)
भाग – V
भाषा – II हिंदी (Language – II Hindi )

निर्देश : नीचे दिए गए प्रश्नों (प्रश्न सं० 1 से 15) के सही/सबसे उपयुक्त उत्तर वाले विकल्प को चुनिए।

1. भाषा-शिक्षण के संदर्भ में बाल-साहित्य का उद्देश्य
(1) बच्चों को उत्साही पाठक बनने के लिए प्रोत्साहित करना
(2) बच्चों को साहित्यिक विधाओं से परिचित करवाना
(3) बच्चों को जीवन-कौशल सिखाना
(4) बच्चों को भाषा के नियमों की जानकारी देना

2. ‘संदर्भ में व्याकरण’ का शैक्षिक निहितार्थ है :
(1) पाठ के संदर्भ में व्याकरण जानना ज़रूरी नहीं
(2) व्याकरण और संदर्भ दोनों अलग हैं
(3) व्याकरण का संदर्भ पाठ्य-पुस्तक में ही होता
(4) व्याकरण पाठ के संदर्भ में सिखाया जाता है

Read Also ...  CTET 31 Jan 2021 Paper I Language II (English) Official Answer Key

3. बच्चों को कहानी सुनाने की उपयोगिता सिद्ध होती
(1) कहानी से मिलने वाली ज्ञान-विज्ञान की जानकारी द्वारा
(2) कहानी से मिलने वाली सीख द्वारा
(3) कहानी कहने के तरीके द्वारा
(4) कहानी में गुंथे हुए नैतिक मूल्यों के आधार पर

4. अवलोकन को आकलन का भाग तभी कहा सकता है जब अवलोकन :
(1) अनिवार्यतः औपचारिक रूप से किया जा रहा
(2) नियमित रूप से किया जा रहा हो
(3) प्रतिदिन प्रत्येक बच्चे का किया जा रहा हो
(4) लड़के-लड़कियों को अलग-अलग किया जा रहा हो

5. सुरभि किसी भी ऐसे शब्द विशेष को बोलने में कठिनाई अनुभव करती है जिसमें दो से अधिक बार ‘त’ की आवृत्ति हुई हो। आप उससे/उसे :
(1) बोलते समय इस ओर ध्यान न देने के लिए कहेंगी
(2) ‘त’ वाले शब्दों का बार-बार उच्चारण करवाएँगी
(3) ऐसे शब्दों का विकल्प ढूंढकर देंगी
(4) ऐसे शब्दों को बार-बार सुनने के लिए कहेंगी आकलन करने में

6. प्राथमिक स्तर पर भाषा का सर्वाधिक सहायक है :
(1) वीडियोग्राफी
(2) लिखित परीक्षा
(3) पोर्टफोलियो
(4) नाटक का मंचन

7. “यदि तुम्हें डलिया भरकर आम दे दिए जाएँ तो तुम क्या करोगी?” इस प्रश्न का उद्देश्य है :
(1) बच्चों को गणित की ओर प्रवृत्त करना
(2) बच्चों को नए शब्दों से परिचित कराना
(3) बच्चों के अनुभव और चिंतन को स्थान देना
(4) बच्चों की मौखिक परीक्षा लेना

Read Also ...  CTET Dec 2019 - Paper - I (Mathematics) Official Answer Key

8. अकादमिक सत्र शुरू होने के दो माह बाद तक भी। कक्षा चार के विद्यार्थियों को भाषा की पाठ्य-पुस्तकें उपलब्ध नहीं करवाई जा सकी हैं। ऐसी स्थिति में शिक्षक :
(1) श्रवण एवं वाचन कौशल का अभ्यास करवाते
(2) विद्यार्थियों को पाठ्य-पुस्तक अपने-आप खरीदने के लिए प्रोत्साहित करें।
(3) पाठ्य-पुस्तक के उपलब्ध होने तक पठन-लेखन की प्रक्रिया आरम्भ न करवाएँ।
(4) भाषाई क्षमताओं के विकास के लिए अन्य विषयों की पाठ्य-पुस्तकों का प्रयोग करें

9. “भाषा शून्य में विकसित नहीं होती।”इसका शैक्षिक निहितार्थ है कि भाषा सीखने के लिए ______ अनिवार्य है।
(1) विद्यालयी पढ़ाई-लिखाई
(2) भाषा प्रयोगशाला
(3) पारिवारिक संवाद
(4) सामाजिक अंतःक्रिया

10. प्राथमिक स्तर पर भाषा-शिक्षण का उद्देश्य है बच्चों को ।
(1) सहज अभिव्यक्ति का अवसर देना
(2) मातृभाषा की लिपि की पहचान करवाना
(3) व्याकरणिक नियमों को कंठस्थ करवाना
(4) अक्षरों की बनावट के प्रति सचेत करना

11. भाषाई कौशलों के संबंध में कौन-सा कथन सही
(1) सभी भाषाई कौशल पाठ्य-पुस्तक से ही विकसित होते हैं।
(2) कोई भी भाषाई कौशल अंतःसंबंधित नहीं है।
(3) सभी भाषाई कौशल अंतःसंबंधित हैं।
(4) सभी भाषाई कौशल स्वयं ही विकसित होते

12. ‘पढ़कर समझना’ कुशलता का विकास करने में सबसे कम महत्त्वपूर्ण है :
(1) कहानी को अपनी भाषा में कहलवाना
(2) कहानी पर आधारित प्रश्न बनवाना
(3) कहानी का अंत बदलवा देना
(4) कहानी पर आधारित व्याकरण समझाना

Read Also ...  CTET July 2019 - Paper - II Language – II (English) Official Answer Key

13. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन प्राथमिक स्तर पर भाषा सीखने के एक महत्त्वपूर्ण उद्देश्य की ओर संकेत करता है?
(1) भाषण, वाद-विवाद और कविता-पाठ में भाग लेना
(2) भाषा को अपने परिवेश एवं अनुभव को समझने का माध्यम मानना
(3) गणित के पाठ्यक्रम के अनुरूप हिन्दी में संख्याएँ जानना
(4) संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और वचन की शुद्ध पहचान करना

14. भाषा सीखने में शब्दकोश का बहुत महत्त्व है। निम्नलिखित में से शब्दकोश का सबसे कम महत्त्वपूर्ण उपयोग कौन-सा होगा?
(1) किसी शब्द का समानार्थी शब्द जानना
(2) किसी शब्द की सही वर्तनी जानना
(3) अक्षरों/वर्गों का क्रम जानना
(4) किसी शब्द का अर्थ जानना

15. जब बच्चे भाषा से भिन्न कोई विषय पढ़ते हैं, तो वे :
(1) केवल अवधारणा ही बना पाते हैं।
(2) केवल विषय ही पढ़ते हैं।
(3) साथ-साथ भाषा भी सीखते हैं।
(4) साथ-साथ परीक्षा की तैयारी भी करते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close button
error: Content is protected !!