UPTET Exam Paper 1 – Part – II (Language – I – Hindi ) (Official Answer Key)

उत्तर प्रदेश शिक्षा पात्रता परीक्षा UPTET (Uttar Pradesh Teachers Eligibility Test) 2019 परीक्षा का आयोजन परीक्षा नियामक प्राधिकरण, उत्तर प्रदेश द्वारा 08 जनवरी (January) 2020 को आयोजित किया गया। UPTET (Uttar Pradesh Teachers Eligibility Test) Exam Paper 2019 – भाषा – I : हिंदी की उत्तरकुंजी (Language – I : Hindi Answer Key). 

UPTET (Uttar Pradesh Teachers Eligibility Test) Paper 1
Primary Level (Class 1 to Class 5) 

परीक्षा (Exam) : UPTET (Uttar Pradesh Teachers Eligibility Test)
भाग (Part) : भाषा – I : हिंदी (Language – I : Hindi)
परीक्षा आयोजक (Organized) : UPBEB
कुल प्रश्न (Number of Question) : 30
Set : C

Click Here To Download Official Answer Key

Read Also …

UPTET Exam Paper 2019
Part – II भाषा – I : हिंदी (Language – I : Hindi)

31. निम्नलिखित में से कौन-सा शब्द तद्भव है ?
(1) खेत
(2) प्रभु
(3) नाथ

(4) त्रिकुटी

32. निम्नलिखित में से कौन-सा शब्द देशज है ?
(1) लाश
(2) औरत
(3) पतलून

(4) धड़ाम

33. छछूदर के सिर पर चमेली का तेल का अर्थ है
(1) मिथ्या आडम्बर
(2) अधिक पाने की लालच करना
(3) योग्य व्यक्ति को अच्छी चीज देना

(4) अयोग्य व्यक्ति को अच्छी चीज देना

34. ‘ऋग्वेद’ का सन्धि-विच्छेद क्या है ?
(1) ऋक् + वेद
(2) ऋ + गवेद
(3) ऋग + वेद

(4) ऋ + वेद

Read Also ...  UPTET Exam 23 Jan 2022 Paper 1, Part - II (Language 1 - Hindi) Official Answer Key

Click To Show Answer/Hide

Answer – (1)

35. ‘आपबीती’ शब्द में समास है
(1) द्वन्द्व समास
(2) द्विगु समास
(3) तत्पुरुष समास

(4) कर्मधारय समास

36. ‘घोंसले में चिड़िया है’ में कौन-सा कारक है ?
(1) सम्बन्ध कारक
(2) सम्प्रदान कारक
(3) अधिकरण कारक

(4) अपादान कारक

निम्नलिखित गद्यांश पढ़कर प्रश्न सं. 37 एवं 38 के उत्तर दीजिए – 

गांधीवाद में राजनीतिक और आध्यात्मिक तत्वों का समन्वय मिलता है । यही इस वाद की विशेषता है । आज संसार में जितने भी वाद प्रचलित हैं वह प्रायः राजनीतिक क्षेत्र में सीमित हो चुके हैं । आत्मा से उनका सम्बंध-विच्छेद होकर केवल बाह्य संसार तक उनका प्रसार रह गया है । मन की निर्मलता और ईश्वर निष्ठा से आत्मा को शुद्ध करना गांधीवाद की प्रथम आवश्यकता है । ऐसा करने से नि:स्वार्थ बुद्धि का विकास होता है और मनुष्य सच्चे अर्थों में जन सेवा के लिए तत्पर हो जाता है । गांधीवाद में साम्प्रदायिकता के लिए कोई स्थान नहीं है । इसी समस्या को हल करने के लिए गांधीजी ने अपने जीवन
का बलिदान कर दिया था ।

37. उपर्युक्त गद्यांश के आधार पर बताइये कि संसार के सारे वाद सीमित हैं
(1) साम्प्रदायिकता तक
(2) आत्मा तक
(3) धर्म तक

(4) राजनीतिक क्षेत्र तक

38. उपर्युक्त गद्यांश में गांधीवाद का आधार किसे बताया गया है ?
(1) जनसेवा और अध्यात्म को
(2) ईश्वर निष्ठा और मन की निर्मलता को
(3) राजनीतिक अध्यात्म और साम्प्रदायिकता को
(4) राजनीतिक और आध्यात्मिक तत्व को

Read Also ...  UPTET Exam 23 Jan 2022 Paper 1, Part – IV (Mathematics) Official Answer Key

Click To Show Answer/Hide

Answer – (4)

39. ‘कनुप्रिया’ के रचनाकार कौन हैं ?
(1) रांगेय राघव
(2) भगवतीचरण वर्मा
(3) नागार्जुन

(4) धर्मवीर भारती

40. प्लुत स्वर कौन-सा है ?
(1) ओउम्
(2) ओम्
(3) ओम
(4) अउम

41. प्रकाशन वर्ष की दृष्टि से डॉ. हरिवंश राय बच्चन की रचनाओं का सही अनुक्रम है
(1) मधुशाला, मधुबाला, मधुकलश, निशा निमन्त्रण
(2) निशा निमन्त्रण, मधुबाला, मधुकलश, मधुशाला
(3) मधुबाला, मधुशाला, निशा निमन्त्रण, मधुकलश

(4) मधुकलश, मधुबाला, मधुशाला, निशा निमन्त्रण

42. सुमेल कीजिए।
I. हिन्दी साहित्य सम्मेलन             A. 1893
II. काशी नागरी प्रचारिणी सभा    B. 1918
III. राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा  C. 1910
.    I II III
(1) C B A
(2) B A C
(3) C A B
(4) A B C

43. ‘तुलसीदास’ के रचनाकार हैं
(1) केशवदास
(2) सूर्यकान्त त्रिपाठी ‘निराला’
(3) डॉ. रामविलास शर्मा
(4) महादेवी वर्मा

44. ‘अन्या से अनन्या’ आत्मकथा किसकी है ?
(1) प्रभा खेतान
(2) सुषम वेदी
(3) उषा प्रियंवदा
(4) मन्नू भंडारी

45. ‘प्रभु जी तुम चंदन हम पानी’ किसका वाक्य है ?
(1) दादू
(2) नानक
(3) रैदास
(4) कबीर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close button
error: Content is protected !!