• शामली पहले प्रबुद्धनगर जिले के नाम से अस्तित्व में आया था।
  • पौराणिक कथा के अनुसार, द्वापर युग मे कुरुक्षेत्र युद्ध मे हस्तिनापुर से जाते समय श्रीकृष्ण ने हनुमान धाम मे विश्राम किया था एवं पुराने कुवें का शीतल जल ग्रहण किया था। कुछ कथाओं के अनुसार यह नगर कुन्तीपुत्र भीमसेन के द्वारा बसाया गया था।
  • प्राप्त सबूतों के अनुसार, मराठा सेनानियों ने इस जगह को अंग्रेजो के खिलाफ लड़ाई मे अपनी छावनी के रूप मे प्रयोग किया था।
  • स्वतंत्रता सेनानियों ने इसे अपने छिपने के लिए एक सुरक्षित जगह माना था।
  • अंग्रेजी सत्ता के समय स्वतंत्रता सेनानियों ने “पुरानी तहसील” को जलाकर 1857 की क्रांति का उद्घोष किया था एवं अपनी क़ुर्बानी दी थी।
Read Also ...  उत्तर प्रदेश के अब तक के पद्म श्री पुरस्कार विजेता