देहरादून (Dehradun) जनपद का संक्षिप्त परिचय

Dehradun
Image Source – http://www.onefivenine.com/

देहरादून (Dehradun)

  • मुख्यालय – देहरादून 
  • अक्षांश – 29°57′ अक्षांश से 31°02′ उत्तरी अक्षांश
  • देशांतर – 77°35′ देशांतर से 79°20′ पूर्वी देशांतर 
  • उपनाम –  द्रोणागिरी, पहाड़ो की रानी (मसूरी)
  • अस्तित्व – 1857 ईसवी
  • क्षेत्रफल – 3088 वर्ग किमी.
  • वन क्षेत्रफल – 1607.3 वर्ग किमी.
  • तहसील – 7 (देहरादून, डोईवाला, ऋषिकेश, विकासनगर, चकराता, कलसी, त्यूनी)
  • विकासखंड – 6 (रायपुर, डोईवाला, सहसपुर, विकासनगर, चकराता, कालसी)
  • ग्राम – 767
  • ग्राम पंचायत –  460
  • नगर पंचायत – 1
  • नगर निगम – 2 (ऋषिकेश, देहरादून) 
  • नगर पालिका – 4 (डोईवाला, मसूरी, विकासनगर, हरबर्टपुर)
  • छावनी क्षेत्र –
  • जनसंख्या – 16,96,694
    • पुरुष जनसंख्या – 8,92,199
    • महिला जनसंख्या – 8,04,495
  • शहरी जनसंख्या –  9,41,941
  • ग्रामीण जनसंख्या – 7,54,753
  • साक्षरता दर – 84.25%
    • पुरुष साक्षरता – 89.4% 
    • महिला साक्षरता – 78.53% 

 

  • जनसंख्या घनत्व – 550
  • लिंगानुपात – 902
  • जनसंख्या वृद्धि दर – 32.33
  • प्रसिद्ध मन्दिर – संतलादेवी, टपकेश्वर, बुद्धाटेम्पल, महासू देवता, डाटकाली, कालसी  
  • प्रसिद्ध मेले, त्यौहार एवं उत्सव – जौनसारी भाबर का मेला, क्वानू, दशहरा, लखवाड, महासू देवता, बिस्सू मेला, झंडा मेला, टपकेश्वर मेला, शरदोत्सव (मसूरी) 
  • प्रसिद्ध पर्यटक स्थल – मसूरी, मालसी, डियरपार्क, डाकपत्थर, आसन बैराज, लाखामंडल, चकराता, यमुना ब्रिज, त्रिवेणी घाट (ऋषिकेश), सहस्त्रधार, लच्छीवाला, गुच्चुपनी, टाइगर फॉल, एफ. आर. आई.-म्यूजियम
  • ताल – चन्द्रबाड़ी व कांसरोताल 
  • जल विद्धुत परियोजनायें –  इचारी बांध (टोंस नदी), लखवार बांध (यमुना नदी), 
  • राष्ट्रीय उद्यान –  राजाजी राष्ट्रीय उद्यान
  • दर्रे –  तिमलीपास
  • सीमा रेखा
  • राष्ट्रीय राजमार्ग –  NH-72, NH-72(A) (राज्य का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग)
  • हवाई पट्टी – जौलीग्रान्ट 
  • कॉलेज (स्नातक/ स्नातकोत्तर महाविद्यालय) – 12
  • विश्वविद्यालय – 12
  • डीम्ड विश्वविद्यालय  – 2 (वन अनुसंधान संस्थान डीम्ड विश्वविद्यालय, ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय)
  • संस्थान – लालबहादुर शास्त्री अकादमी(मसूरी), भारती सैन्य अकादमी, फारेस्ट रिसर्च इंस्टिट्यूट, भारती सर्वेक्षण संस्थान, वन्यजीव संस्थान, ए.आई.आई.एम.स. ऋषिकेश, भारती पेट्रोलियम संस्थान, ओ.एन.जी.सी. संस्थान, वाडिया हिमालय भूविज्ञान संस्थान, स्वामी राम हिमालय हास्पिटल
  • विधानसभा क्षेत्र – 10 (चकराता(अनुसूचित जनजाति), राजपुर(अनुसूचित जाति), विकासनगर, देहरादून, धर्मपुर, मसूरी, डोईवाला, सहसपुर, ऋषिकेश, रायपुर)
  • लोकसभा सीट – 2 (1 पूर्ण और 1 आंशिक)
  • राज्यसभा सीट – 1 
  • नदी – टोंस नदी, गंगा(ऋषिकेश), यमुना, आसन, सुस्वा, रिस्पाना, बिंदल , अमलवाव नदी
Read Also ...  उत्तराखंड में लुशिंगटन व बैटन के शुधार

Source – https://dehradun.gov.in/

इतिहास

स्कंद पुराण के मुताबिक, डन ने केदार खण्ड नामक क्षेत्र का हिस्सा बनवाया था। यह तीसरी शताब्दी बीसी के अंत तक अशोक के राज्य में शामिल था। इतिहास द्वारा यह पता चला है कि सदियों से इस क्षेत्र ने गढ़वाल राज्य का हिस्सा रोहिल्लास से कुछ रुकावट के साथ बनाया था। 1815 तक लगभग दो दशकों तक यह गोरखाओं के कब्जे में था। अप्रैल 1815 में गोरखाओं को गढ़वाल क्षेत्र से हटा दिया गया और गढ़वाल को अंग्रेजों ने कब्जा कर लिया। उस वर्ष में तहसील देहरादून का क्षेत्र अब सहारनपुर जिले में जोड़ा गया था। 1825 में, हालांकि, यह कुमाऊ डिवीजन में स्थानांतरित किया गया था। 1828 में, देहरादून और जौनसर भाबार को एक अलग डिप्टी कमिश्नर के पद पर रखा गया और 1892 में देहरादून जिले को कुमाऊं डिवीजन से मेरठ डिवीजन में स्थानांतरित कर दिया गया। 1842 में, डन सहारनपुर जिले से जुड़ा हुआ था और जिले के कलेक्टर के अधीनस्थ एक अधिकारी के अधीन रखा गया था, लेकिन 1871 से इसे अलग जिले के रूप में प्रशासित किया जा रहा है। 1968 में जिले को मेरठ प्रभाग से निकाला गया और गढ़वाल प्रभाग में शामिल किया गया।

देहरादून को दो अलग-अलग हिस्सों में विभाजित किया जा सकता है, अर्थात् मेंटन पथ और उप-माउंटन पथ। मोन्टन ट्रेक्ट में पूरे चक्रस्थान तहसील को शामिल किया गया है और इसमें पूरी तरह से पहाड़ों और झुंडों के उत्तराधिकार हैं और इसमें जौनसर भाबर शामिल हैं। पहाड़ी बहुत खड़ी ढलानों के साथ बहुत मोटे हैं। ट्रैक्ट की सबसे महत्वपूर्ण विशेषताएं एक रिज है जो कि पूर्व में यमुना से पश्चिम में टोंस के जल निकासी को अलग करती है। नीचे मणना के मार्ग में उप-माउंटन मार्ग होता है, जो दक्षिण में शिवालिक पहाड़ियों और उत्तर में हिमालय के बाहरी छिलके से घिरे प्रसिद्ध डन घाटी है।

Read Also ...  अल्मोड़ा (Almora) जनपद का संक्षिप्त परिचय

Read Also …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close button
error: Content is protected !!