UTET Exam Paper 2017 – Environmental Studies (Solved Paper)

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद् (UBSE – Uttarakhand Board of School Education) द्वारा 22 जनवरी 2017 को UTET (Uttarakhand Teachers Eligibility Test) परीक्षा का आयोजन किया गया था। UTET (Uttarakhand Teachers Eligibility Test) Exam Paper 2017 – पर्यावरणीय अध्ययन की उत्तरकुंजी (Environmental Studies Part Answer Key). 

UTET (Uttarakhand Teachers Eligibility Test) Primary Level
(Class 1 to Class 5).

परीक्षा (Exam) : UTET (Uttarakhand Teachers Eligibility Test)
भाग (Part) : पर्यावरणीय अध्ययन (Environmental Studies)
परीक्षा आयोजक (Organized) : UBSE
कुल प्रश्न (Number of Question) : 30

UTET Exam Paper 2017
पर्यावरणीय अध्ययन (Environmental Studies)

1. निम्न में रखी की फसलें हैं।
(a) धान, चना
(b) गहू, मक्का
(c) मक्का, घाने
(d) चना, गहूँ

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (d)
Note – रबी की फसल के अन्तर्गत गएँ, चना, अलि, मटर, सरसो, मसूर आदि आते हैं। इन फसलों की बुआई अक्टूबर-नवम्बर में की जाती है तथा मार्च-अप्रैल में काट ली जाती है।

2. पौधो को वायुमण्डल का शुद्धिकारक कहा जाता है. क्योंकि इसमें होती है।
(a) श्वसन की क्रिया
(b) वाष्पोत्सर्जन की क्रिया
(c) प्रकाश-संश्लेषण की क्रिया
(d) में सभी

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (c)
Note – पौधों को वायुमण्डल को शुद्धिकारक कहा जाता है, क्योंकि इसमें प्रकाश संश्लेषण की क्रिया होती है। पौधे प्रकाश संश्लेषण क्रिया के फलस्वरुप कार्बनडाई ऑक्साइड को अवशोषित कर ऑक्सीजन गैस का उत्सर्जन करती है, जिसके कारण वायुमण्डल शुद्ध बना रहता है।

3. ‘तरुण भारत संघ’ के राजेन्द्र सिंह को किस कार्य के लिए मैग्सेसे पुरस्कार दिया गया?
(a) अत संरक्षण
(b) सामुदायिक वानिकी
(c) वनों के संरक्षण
(d) सौर ऊर्जा

Click To Show Answer/Hide

उत्तर –  (a) 
Note – तरुण भारत संघ के राजेन्द्र सिंह को जल संरक्षण के संदर्भ में किये गए प्रयासों के लिए जाना जाता है। इन्हें भारत का जलपुरुष भी कहा जाता है। इन्हें जल संरक्षण कार्य के लिए मैग्सेस एवार्ड एवं स्टॉकहोम वाटर पुरस्कार प्रदान किया गया।

4. कौन-सी गैस अधिकतम भूमण्डलीय तापमान वृद्धि के लिए उत्तरदायी है?
(a) क्लोरोफ्लोरोकार्बन
(b) मेथेन
(c) कार्बन डाइऑक्साइड
(d) नाइट्रस ऑक्साइड

Read Also ...  UTET Exam 26 Nov 2021 Paper – 1 (EVS) (Official Answer Key)

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (c)
Note – भूमण्डलीय तापमान वृद्धि के लिए उत्तरदायी गैसे को ग्रीन हाउस गैसे कहा जाता है। ये पैसे कार्बनडाई ऑक्साइड, मेथेन, नाइट्रस आक्साइड, क्लोरोफ्लोरो कार्बन तथा जलवाष्प होती है। इन गैसो में कार्बनडाइ आक्साइड सर्वाधिक उत्तरदायी होती है।

5. घरेलू मवेशी तथा भेड़ किन हरितगृह गैस के उत्पादन के लिए उत्तरदायी है?
(a) ओजान
(b) नाइट्रस ऑक्साइड
(c) क्लोरोफ्लोकार्बन
(d) मेथेन

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (d) 
Note – घरलू मवेशी तथा भेड़ मेथेन गैस के उत्पादन के लिए उत्तरदायी है। मवेशी के जुगाली करने की प्रक्रिया के अंतर्गत मेथेन का उत्सर्जन होता है।

6. वनों के कटान के प्रमुख परिणाम है।
I. वन्य-प्राणियों के प्राकृतिक आवास का विनाश
II. जल-चक्रण पर प्रभाव
III. मृदा अपरदन
उपरोक्त में से कौन-सा कथन सही है?
(a) केवल I
(b) I और II
(c) केवल II
(d) I, II और III

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (d) 
Note – वनों की कटाई का सीधा प्रभाव हमारे पारितंत्र पर पड़ता है। वनों की कटाई से वन्य-प्राणियों के प्राकृतिक आवास का विनाश तथा जल चक्रण पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है। वनों की कटाई में मृदा अपरदन और आकस्मिक बाढ़े जैसे घटना घटित होती हैं। वनो की कटाई से मृदा सूखने लगती है उममें पोषक तत्वों की कमी होने लगती है जिससे मृदा अपरदन की प्रक्रिया शुरु हो जाती हैं। वनावरण के कम होने से मृदा अपरदन तीव्र गति से होता है, जिससे नदियों में गाद जमाव की समस्या होती है। वन मृदा के अपरदन एवं भू-स्खलन को रोकते है जिससे बाढ़, सूखे की तीव्रता में कमी आती है।

7. नदी-मुहानों के लक्षण हैं-
(a) ताजा एवं खारा जल
(b) समृद्ध जैव-विविधता
(c) अधिक उत्पादकता
(d) ये सभी

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (d)
Note – नदी मुहाने के निम्न लक्षण है- ताजा अल एवं खास जल, समृद्ध जैव-विविधता, अधिक उत्पादकता।

Read Also ...  UTET Exam 26 Nov 2021 Paper – 2 (Language II – English) (Official Answer Key)

8. खाद्य शृखला द्वारा घातक रसायनों की निरंतर बढ़ती मात्रा कहलाती है।
(a) पारिस्थितिक संतुलन
(b) जैव-सान्द्रण
(c) वाद्य स्तर
(d) जैव-अपघटन

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (b) 
Note – खाद्य शृखला द्वारा घातक रसायनों की निरन्तर बढ़ती मात्रा जैव सान्द्रण कहलाती है। जैव सान्द्रण में पर्यावरण में किसी प्रदूषक को खाद्य श्रृंखला के प्रथम जीव में सान्द्रण बढ़ता जाता है।

9. केदारनाथ अभयारण्य निम्न के लिए जाना जाता है।
(a) बाघों के लिए
(b) हाथियों के लिए
(c) पक्षियों के लिए
(d) कम्तूरी मृग के लिए

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (d)
Note – केदारनाथ वन्य जीव अभ्यारण्य उत्तराखण्ड के चमोली  जिले की अलकनंदा घाटी में स्थित है। इस अभ्यारण्य के नाम केदारनाथ मंदिर के नाम पर रखा गया है। यह अभ्यारण्य कस्तूरी मृग के लिए जाना जाता है। इसलिए इस अभ्यारण्य को केदारनाथ कस्तूरी मृग अभ्यारण्य कहते है क्योंकि यह कस्तूरी मृग की विलुप्त प्राय प्रजाति का संरक्षण करता है।

10. किस मृदा में जल धारण क्षमता अधिक होती है।
(a) रामद
(b) बलुई
(c) चिकनी
(d) बारीक बालू

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (c)
Note – चिकनी मिट्टी में जल धारण क्षमता अधिक होती हैं। चिकनी मिट्टी के कणों का आकार 0.002μ से कम होती है। ये भूरेरंग की होती है जो प्रायः नदियों के किनार देखने को मिलती है।

11. ‘भारत में हरित- क्रान्ति का जनक’ कहा जाता है?
(a) प्रो. बीरबल साहनी को
(b) डॉ. एम एस स्वामीनाथन को
(c) प्रो. एम ओ पी आर्यगर का
(d) डॉ. वी कुरियन को

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (b) 
Note – डॉ. एम.एस. स्वामीनाथन को भारत में हरित क्रान्ति का जनक’ (Father of green Evolution in India) कहा जाता है। इन्होंने गेहूं की विभिन्न प्रजातियों की आनुवंशिकी का अध्ययन किया जिससे एक नये प्रकार के गेहूं C-57 को पंजाब में विकास हुआ। इन्हीं के सफल प्रयासों के कारण 1960 के दशक के अंतिम वर्षो में भारत में हरित क्रांन्ति सफल हो पाई।

Read Also ...  UTET Exam 06 Nov 2019 Paper – 1 (Mathematics) (Official Answer Key)

12. बर्फ पर अंडे देने वाला पक्षी है
(a) आर्कटिक टर्न
(b) हमिंग बर्ड
(c) एलबैट्रास
(d) पग्विन

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (d)
Note – पेल्विन एक न उड़ने वाली पक्षी है जो अंटार्कटिक के बर्फीले इलाकों में पायी जाती है। यह बर्फ पर अंडे देती हैं तथा नर पग्विन इन अण्डों  की देखभात करता हैं। ये अपना लगभग आधा जीवन धरती पर और आधा जीवन महासागरों में बिताते है।

13. आर्कटिक मरुस्थल किसका दूसरा नाम है?
(a) टुण्ड्रो
(b) मवाना
(c) टंगा
(d) स्पीज

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (a)
Note – आर्कटिक मरूस्थल टुन्ड्रा  का दूसरा नाम है। इस टुन्ड्रा प्रदेश में सूर्य के प्रकाश का   अभाव रहता है। कम-से-कम आठ महीनों तक धरातल हिमाच्छादित रहता है। टुण्ड्रा प्रदेश  उत्तरी कनाडा, अलास्का, यूरोपीय रूस, साइबेरिया व आर्कटिक महासागर के द्वीप समूहों में फैला हुआ है।

14. मीजोजोइक युग निम्न प्राणियों का युग माना जाता है।
(a) उभयचर जीवों को
(b) सरीसृप जीवों को
(c) पक्षियों को
(d) स्तनधारी जीवों को

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (b)
Note – मोजोजोइक युग सरीसृप जीयों का युग माना जाता है। ये जीव पृथ्वी पर रेंगकर चलते है। इनके शरीर पर बाल या पंख के बजाए शल्क होता हैं। ये असमतापी जन्तु होते हैं। ये प्रायः अंडे देनी वाली प्रजाति हैं। कछुआ, छिपकली, सर्प, घड़ियाल आदि सरीसृप जीव है।

15. चेनोर्बिल दुर्घटना किससे सम्बन्धित हैं?
(a) भूस्खलन
(b) नाभिकीय दुर्घटना
(d) अम्लीय वर्षा

Click To Show Answer/Hide

उत्तर – (c)
Note – चेनोर्बिल दुर्घटना नाभिकीय दुर्घटना से संबंधित है, जो 26 अप्रैल 1986 को यूक्रेन के चेर्नोबिल न्यूक्लियर पॉवर प्लांट में घटित हुई थी। इस परमाणु दुर्घटना को दुनिया का सबसे बड़ा परमाणु हादसा माना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close button
error: Content is protected !!