मेरठ जनपद (Meerut District)

मेरठ का परिचय (Introduction of Meerut District)

मेरठ  की स्थिति (Location of  Meerut)

  • मुख्यालय – मेरठ 
  • पुराना नाम व उपनाम – क्रांति नगर, कैची नगर 
  • मंडल मेरठ 
  • क्षेत्रफल – 2590 वर्ग कि.मी.
  • सीमा रेखा
  • राष्ट्रीय राजमार्ग –  NH-58, NH-235, NH-119
  • नदियाँ – गंगा , यमुना   
  • परियोजनाएँ – उपरी गंगा नहर, यमुना नहर 

मेरठ  की प्रशासनिक परिचय (Administrative Introduction of Meerut)

  • विधानसभा क्षेत्र – 7 (मेरठ शहर, मेरठ कैंट, मेरठ दक्षिण, सरधना, किठौर, हस्तिनापुर, सिवालखास)
  • लोकसभा सीट – 4 (सरधना विधानसभा, मुजफ्फरनगर लोकसभा में हस्तिनापुर विधानसभा, बिजनौर लोकसभा में सिवाल खास, बागपत लोकसभा क्षेत्र में और मेरठ कैंट, मेरठ दक्षिण और मेरठ शहर किठौर मेरठ लोकसभा क्षेत्र में है)
  • तहसील – 3 (मेरठ, मावाना, सरधना)
  • विकासखंड (ब्लाक)  – 12 (जानी, खरखौदा, मेरठ, रजपुरा , रोहटा, हस्तिनापुर, माछरा,  मावाना, परिक्षितगढ, दौराला, सरधना, सरूरपुर)
  • कुल ग्राम – 662
  • कुल ग्राम पंचायत – 482
  • जिला पंचायत – 34
  • नगर पालिका परिषद – 3 (मवाना, मवाना (मेरठ),सरधना (मेरठ))
  • नगर पंचायत – 16

मेरठ  की जनसंख्या (Population of Meerut)

  • जनसंख्या – 34,43,689
    • पुरुष जनसंख्या – 18,25,743
    • महिला जनसंख्या – 16,17,946
  • शहरी जनसंख्या – 17,59,182 (51.08 %)
  • ग्रामीण जनसंख्या – 16,84,507 (48.92 %)
  • साक्षरता दर – 72.84%
    • पुरुष साक्षरता – 80.74%
    • महिला साक्षरता – 63.98%
  • जनसंख्या घनत्व – 1,346
  • लिंगानुपात – 886
  • जनसंख्या वृद्धि दर – 14.89%
  • हिन्दू जनसंख्या – 21,83,255 (63.40 %)
  • मुस्लिम जनसंख्या – 11,85,643 (34.43 %)
  • इसाई जनसंख्या – 10,582 (0.31 %)

Population Source – census2011.co.in

Read Also ...  बलरामपुर जनपद (Balrampur District)

मेरठ  के संस्थान व प्रमुख स्थान (Institution & Prime Location of Meeruth)

  • कॉलेज – चौ० चरण सिंह विश्वविद्यालय, सरदार वल्लभ भाई  पटेल कृषि एवं प्रोद्यौगिकी विश्वविद्यालय
  • प्रमुख धार्मिक स्थल  जैन श्वेतांबर मंदिर रोमन कैथोलिक चर्च नंगली तीर्थ जामा मस्जिद
  • प्रसिद्ध स्थल – पांडव किला, शहीद स्मारक, शाहपीर मकबरा, हस्तिनापुर तीर्थ, सूरज कुंड, द्रोपदी की रसोई 
  • उद्योग – कृषि संयंत्र कारखाने, चमड़ा उद्योग, गुड़ उद्योग, काँच उद्योग, दियासलाई, साबुन उद्योग, कैंची उद्योग, रंग रोगन व वार्निश उद्योग, कम्बल निर्माण उद्योग लावड़, खेल सामान उद्योग, स्प्रिट एवं शराब उद्योग
  • प्रमुख संस्थान सेन्ट्रल पोटैटो रिसर्च स्टेशन, सरदार पटेल कृषि एवं प्रौ. विश्वविद्यालय, मोदीपुरम्
  • अभयारण्य –हस्तिनापुर वन्य जीवन अभयारण्य

Notes –

  • मेरठ दो पवित्र नदियों गंगा और यमुना के बीच बसा हुआ है।
  • मेरठ का नाम संभवतः मयराष्ट्र से विकसित है अर्थात मय का प्रदेश। मय हिन्दु पौराणिक मान्यताओं के अनुसार असुरों का राजा था।
  • महाभारत काल में कौरवों की राजधानी हस्तिनापुर थी जो किं वर्तमान में मेरठ जिले के अंतर्गत आता है।
  • मध्य युग से इसकी इन्द्रप्रस्थ (वर्तमान दिल्ली) से निकटता के कारण भारत के राष्ट्रीय महत्व के कार्यों में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है।
  • 10 मई, 1857 को अंग्रेजी शासन के खिलाफ ब्रिटिश सेना के भारतीय जवानों द्वारा विद्रोह यहीं से आरंभ हुआ। उन्होंने मेरठ शहर पर एक दिन में ही नियंत्रण कर लिया।
  • मेरठ को “भारत का खेल नगर” भी कहते हैं जिसका किं कारण यहां पर विशाल खेल उद्योग का होना है।
Read Also :

Related Post ….

 

Read Also ...  उत्तर प्रदेश के अब तक के पद्म भूषण पुरस्कार विजेता

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close button
error: Content is protected !!