DNA एवं RNA में अंतर 

D.N.A. एवं R.N.A. में अंतर
(Difference between DNA and RNA)

DNA (Deoxyribonucleic Acid)

RNA (Ribonucleic Acid)

1. यह प्रमुख रुप से केन्द्रक में होता है 1. यह मुख्य रुप से कोशिका द्रव्य में होता है किन्तु mRNA कुछ मात्रा केन्द्रक में भी होती है। 
2. दो लम्बी शृंखलाओं के डबल हेलिक्स के रुप में होता है। दोनों शृंखलाएँ एक दूसरे के चारों और कुंडलित रहती है।  2. यह एक शृंखला का ही होता है। यह एक शृंखला स्वयं पर कुंडलित होती है।
3. इसके अणु में डी ऑक्सीरिबोस शर्करा होती है  3. इसके अणु में रिबोस शर्करा होती है। 
4. इसके न्यूक्लियोटाइड ऐडेनीन ग्वामीन, सायटोसीन एवं थायमीन क्षार होते हैं।  4. इसमें थायमीन के स्थान पर यूरेसिल क्षार होता है। शेष क्षार समान होते हैं। 
5. इनके प्यूरिन एंव पिरिमिडीन का अनुपात समान होता हैं।  5. इनमें प्यूरिन तथा पिरिमिडीन का अनुपात समान नही होता। 
6. यह एक ही प्रकार का होता है। 6. आर.एन.ए- तीन प्रकार के होते है mRNA, tRNA, rRNA
7. यह एक आनुवांशिक पदार्थ है एवं स्वतः द्विगुणित हो सकता है। इसमें कोशिका में होने वाली जैविक क्रियाओं के संदेश निहित होते हैं। 7. यह डी.एन.ए. के सहयोगी के रुप में संदेशों को mRNA के रुप में कोशिका-द्रव्य में प्रेषित करता है। tRNA एवं IRNA प्रोटीन संश्लेषण की क्रिया करते हैं।

 

Read More :

Read More for Biology Notes

Read Also ...  जीव विज्ञान और इनकी शाखाएँ (Biology and Their Branches) 

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close button
error: Content is protected !!