सहारनपुर (Saharanpur) | TheExamPillar
Saharanpur District of UP

सहारनपुर (Saharanpur)

सहारनपुर जनपद का परिचय (Introduction to Saharanpur District)

स्थिति (Location)

  • उपनाम – नक्काशी नगर
  • मुख्यालय – सहारनपुर
  • मंडल सहारनपुर
  • अस्तित्व – 1997
  • क्षेत्रफल –  3,689 वर्ग किमी
  • सीमा रेखा
  • राष्ट्रीय राजमार्ग – राष्ट्रीय राजमार्ग (NH) 73
  • नदियाँ – यमूना, गंगा, सोलानी, हिंडन, रतमाऊ, नागदेव
  • परियोजनाएँ — ऊपरी गंगा नहर, पूर्वी यमुना नहर

प्रशासनिक (Administrative)

  • विधानसभा क्षेत्र –  6 (बेहट विधानसभा, बेहट, सहारनपुर नगर, सहारनपुर, देवबन्द, रामपुरमनिहारान (अ०जा०))
  • लोकसभा सीट – 1 (सहारनपुर)
  • तहसील – 5 (सहारनपुर, देवबंद, नकुड, रामपुर मनिहारान, बेहट)
  • विकासखंड (ब्लाक)  – 11 (सढोली कदीम, मुज़फ्फराबाद, पुवांरका, बलियाखेडी, सरसावां, नकुड, गंगोह, रामपुर मनिहारान, नागल, नानौता, देवबंद)
  • कुल ग्राम पंचायत – 887
  • नगर पालिका परिषद – 4 (देवबन्द, नकुड, नकुड, गंगोह)
  • नगर निगम – 1 (सहारनपुर)
  • नगर पंचायत – 6 (नानौता, रामपुर मनिहारान, अम्बेहटा पीर, तीतरों, सुल्तानपुर चिलकाना, बेहट)

जनसंख्या (Population)

  • जनसंख्या – 34,66,382
    • पुरुष जनसंख्या – 18,34,106
    • महिला जनसंख्या – 16,32,276
  • शहरी जनसंख्या – 10,66,526 (30.77%)
  • ग्रामीण जनसंख्या – 23,99,856 (69.23%)
  • साक्षरता दर – 70.49%
    • पुरुष साक्षरता – 78.28%
    • महिला साक्षरता – 61.74%
  • जनसंख्या घनत्व – 940
  • लिंगानुपात – 890
  • जनसंख्या वृद्धि दर – 19.66%
  • हिन्दू जनसंख्या – 19,66,892 (56.74%)
  • मुस्लिम जनसंख्या – 14,54,052 (41.95%)
  • ईसाई जनसंख्या – 6,523 (0.19%)
  • सिख जनसंख्या – 18,627 (0.54%)

Population Source – census2011.co.in

संस्थान व प्रमुख स्थान (Institution & Prime Location)

  • कॉलेज – जे.वी.जैन कॉलेज, महाराज सिंह डिग्री कॉलेज, मुन्नालाल एवं जयनारायण खेमका गर्ल्स कालेज, राजकीय दृष्टिबाधित विद्यालय
  • प्रसिद्ध धार्मिक स्थल – माँ शाकुम्भरी देवी मंदि,  बाबा भूरादेव मन्दिर, माँ बाला सुंदरी देवी मंदिर, नौ गजा पीर, दारुल उलूम
  • मेला/महोत्सव – शाकम्भरी देवी मेला, गुगाल का मेला
  • उद्योग – चीनी उद्योग, दियासलाई उद्योग, औषधि निर्माण उद्योग, लोहे का बाँट उद्योग, सिगरेट निर्माण उद्योग, लकड़ी का फर्नीचर उद्योग, स्प्रिट व शराब उद्योग, सूती वस्त्र उत्पादन केन्द्र
  • प्रमुख संस्थान – हुलास (यहाँ से उत्तर हड़प्पा युग से सम्बद्ध अवशेष प्राप्त हुए हैं)

 

Notes –

  • सहारनपुर की स्थापना 1340 के आसपास हुई और इसका नाम एक राजा सहारन पीर के नाम पर पड़ा।
  • गंगा सबसे पहले सहारनपुर जिले में प्रवेश करती है
  • सहारनपुर मुख्य रूप से कृषि प्रधान जिला है।
  • जिले की मुख्य विशेषताएं चार भागों में विभाजित की जा सकती हैं।
    • शिवालिक हिल ट्रैक्ट
    • भाबर भूमि
    • बांगर भूमि
    • खादर भूमि (यमुना, हिन्डन)
  • सहारनपुर सबसे छोटा मण्डल है. इसमें तीन जिले सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर सम्मिलित हैं
  • जनश्रुति के अनुसार एक सूफी संत शाह हारून चिश्ती के नाम पर यह क्षेत्र सहारनपुर नाम से जाना गया
  • 1340 ई. में पांव धोई नदी के तट पर शाह हारून चिश्ती नाम के प्रसिद्ध सूफी संत के होने की सूचना मुहम्मद तुगलक को मिली थी और तुगलक ने संत से मिलने के बाद एक फरमान जारी किया कि उस स्थान को शाह हारूनपुर नाम से जाना जाए
  • सहारनपुर में राजा साह रनवीर सिंह का किला खण्डहर के रूप में आज भी देखा जा सकता है
  • इतिहासकारों व खनन से प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर स्पष्ट हो चुका है कि सिंधु घाटी की सभ्यता का विस्तार सहारनपुर तक भी था
  • उत्तर प्रदेश में सिंधु सभ्यता के साक्ष्य बड़ागाँब और हुलास (सहारनपुर) आदि स्थलों से प्राप्त होते हैं
  • ताम्र-कांस्य संस्कृति के साक्ष्य सहारनपुर जिले से मिले हैं
  • कृषि जलवायु प्रदेश – भॉवर एवं तराई क्षेत्र

सहारनपुर घराना

  • संस्थापक – खलीफा मोहम्मद जमा
  • गायन – आलाप, होरी, ध्रुपद,
  • गायक – नसीर मोइनुद्दीन डागर, नसीर अमीनुद्दीन डागर, नसीन जहारुद्दीन डागर, नसीर फैयाजुद्दीन डागर, वसीफुद्दीन डागर, बहराम खाँ, रहीमुद्दीन खाँ

 

Read Also :

Related Post ….

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!