बिहार की भौगोलिक स्थिति

भौगोलिक स्थिति

Bihar
Image Source – http://www.disastermgmt.bih.nic.in/

बिहार गंगा के मध्य मैदानी भाग में स्थित पूर्वी भारत का राज्य है। बिहार का वर्तमान स्वरूप 15 नवंबर, 2000 को झारखंड के पृथक् होने के बाद आया है। आयताकार आकृतिवाला वर्तमान बिहार का क्षेत्रफल 94,163 वर्ग किलोमीटर (36,357 वर्ग मील) है। यह भारत के कुल क्षेत्रफल का 2.86% है। क्षेत्रफल की दृष्टि से बिहार भारत का 13वाँ बड़ा राज्य है।

2011 की जनगणना के अनुसार बिहार की जनसंख्या 10,31,04,637 है। जनसंख्या की दृष्टि से यह देश का तीसरा बड़ा राज्य है। बिहार का भौगोलिक विस्तार 24°21’10” से 27°31’15” उत्तरी अक्षांश के बीच तथा 83°19’50” से 88°17’40” पूर्वी देशांतर के बीच स्थित है। उत्तर से दक्षिण बिहार की लंबाई 345 किलोमीटर तथा पूरब से पश्चिम चौड़ाई 483 किलोमीटर है।

बिहार की सीमा रेखा 

  • बिहार के पूर्व में – पश्चिम बंगाल स्थित है, जिससे स्पर्श करने वाले बिहार के 3 जिले किशनगंज, पूर्णिया एवं कटिहार हैं।
  • बिहार के पश्चिम में उत्तर प्रदेश स्थित है, जिससे स्पर्श करने वाले बिहार के सर्वाधिक 8 जिले रोहतास, कैमूर, बक्सर, भोजपुर, सारण, सीवान, गोपालगंज और पश्चिमी चंपारण है।
  • बिहार के उत्तर में नेपाल स्थित है, जो अंतर्राष्ट्रीय सीमा का निर्धारण करता है। नेपाल से स्पर्श करनेवाले बिहार के 7 जिलों में पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया और किशनगंज हैं।
  • बिहार के दक्षिणी में – झारखंड स्थित है, जिससे स्पर्श करने वाले बिहार के 7 जिले भागलपुर, बाँका, जमुई, नवादा, गया, औरंगाबाद और रोहतास हैं।
Read Also ...  बिहार के प्रमुख संग्रहालय (Major Museums of Bihar)

बिहार राज्य के 13 जिले न तो अंतर्राष्ट्रीय सीमा का निर्धारण करते हैं और न ही किसी राज्य से स्पर्श करते हैं। बिहार के सभी 38 जिलों में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला पश्चिमी चंपारण तथा सबसे छोटा जिला शेखपुरा है। राज्य के सबसे दक्षिणी भाग में गया एवं जमुई जिला तथा सबसे उत्तर में पश्चिमी चंपारण जिला स्थित है। पश्चिम में कैमूर जिले से प्रारंभ होकर पूरब में किशनगंज तक विस्तृत है। संपूर्ण राज्य कर्क रेखा के उत्तर में स्थित है।

भौगोलिक संरचना 

  1. बिहार की भौगोलिक संरचना,
  2. उत्तर का शिवालिक पर्वतीय प्रदेश एवं तराई प्रदेश,
  3. गंगा का मैदान,
  4. दक्षिणी पठारी क्षेत्र

 

Read Also …

  • बिहार के बारे में अधिक जानकरी के लिए क्लिक करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close button
error: Content is protected !!